Utejna Sahas Aur Romanch Ke Vo Din – Ep 74

क्या खूब सुहाना सफर रहा क्या सुबह हुई क्या शाम ढली। धीरे धीरे किसी की औरत मैंने कैसे अपनी करली। जो फिरती थी मानिनी बन कर उसको मैंने पकड़ा कैसे? जाँ का भी दाँव लगा कर के बाँहों में उसे जकड़ा कैसे?

Utejna Sahas Aur Romanch Ke Vo Din – Ep 73

अच्छी अच्छी मानिनीयाँ भी चुदवाने को बेताब हुई? पहले तो पति से ही चुदती थी, गैरों पर क्यों मोहताज हुई?” दवा जो वफ़ा का करते थे जो ढोल वफ़ा का पीटते थे। क्यों वह झुक कर डॉगी बन लण्ड लेने को सरताज हुई?

Utejna Sahas Aur Romanch Ke Vo Din – Ep 72

क्या हाल हुआ क्या बात हुई? अच्छी अच्छी मानिनीयाँ भी चुदवाने को बेताब हुई? पहले तो पति से ही चुदती थी, गैरों पर क्यों मोहताज हुई?

Utejna Sahas Aur Romanch Ke Vo Din – Ep 71

सुनीता अपने पति सुनीलजी और अपने प्रियतम जस्सूजी के बिच में लेटी हुई थी। एक तरफ उसके पति का खड़ा लण्ड उसकी चूत में घुस रहा था, तो पीछे जस्सूजी का मोटा घण्टा सुनीता गाँड़ की दरार में फँसा था।

Utejna Sahas Aur Romanch Ke Vo Din – Ep 70

सुनीता के लिए खड़े हुए जस्सूजी से उनकी बाँहों को अपनी बगल में लेकर एक फूल की तरह अपने नंगे बदन को ऊपर उठाकर अपनी चुदाई करवाने का मज़ा कुछ और ही था।

Pooja Ki Pooja – Episode 9

कुछ देर तक मैं पूजा की चूत को चाटता रहा और पूजा पलंग पर अपनी गाँड़ को मचलती हुई बिना कुछ बोले मुझे अपना लण्ड उसकी चूत में डालने का इशारा करती रही।

Pooja Ki Pooja – Episode 8

राज ने पूजा से और मुझ से इजाजत ली और बाहर निकल गया। पूजा ने असहायता दिखाते हुए अपने कंधे हिलाये और राज वहाँ से बाहर निकल लिया।

Pooja Ki Pooja – Episode 7

मैंने यह तय कर लिया था की बिना राज के जाने मैं पूजा से कोई अलग से संपर्क करने की कोशिश नहीं करूंगा। अब बस मैं राज को कोई ऐसा मौक़ा नहीं देना चाहता था।

Pooja Ki Pooja – Episode 6

राज ने मुझे बाद में यह सारी बात बतायी और साथ साथ में यह भी कहा की उसके बाद उन दोनों ने जमकर चुदाई की। राज की बात सुनकर मेरा लण्ड भी खड़ा हो गया।

Pooja Ki Pooja – Episode 5

वीडियो खत्म होते ही राज ने मुझे एक ऐसी बात कही की मेरा सर चकरा गया। उसने कहा, यार अनूप, इस बार मैं चाहता हूँ की तुम मेरी बीबी को चोदो।

Pooja Ki Pooja – Episode 4

एक दिन जब मुझे कोई ख़ास काम नहीं था तब मैंने राज से फ़ोन पर बात की। मेरी आवाज सुनते ही राज की उत्तेजना का ठिकाना नहीं रहा।

Pooja Ki Pooja – Episode 3

कॉलेज ख़तम होने के बाद मुझे पोस्ट ग्रेजुएट में कहीं और दाखिला मिल गया और मैं उस शहर से दूर चला गया और मेरी और पूजा की कहानी वहीँ ख़तम हो गयी।

Pooja Ki Pooja – Episode 2

अगर प्रोडूसर दूसरे प्रोडूसर के मॉडल इस्तेमाल करता है तो उसे काफी ज्यादा पैसे देने पड़ते हैं। इसी लिए अगर आप मॉडल बनते हैं तो आपको सब तरह के पोज़ देने पड़ते हैं।

Pooja Ki Pooja – Episode 1

क्या सुन्दर उभरे दिखते हैं दूध भरे यह वक्ष तुम्हारे जो, जब हाथ हमारे मसलेँगे तब हाल तुम्हारा क्या होगा? यह बॉल बड़े चिकने कोमल कैसी होंगी उनपर निप्पल?

Utejna Sahas Aur Romanch Ke Vo Din – Ep 69

सुनीता ने जस्सूजी की और देखा और अपना पेंडू से ऊपर धक्का मारकर जस्सूजी का लण्ड थोड़ा और अंदर घुसड़ने की कोशिश की। जिसका अंजाम क्या हुआ जानिए!

Utejna Sahas Aur Romanch Ke Vo Din – Ep 68

जस्सूजी ने पहले सुनीता के कपाल पर और फिर सुनीता के बालों पर, नाक पर, दोनों आँखों पर, सुनीता के गालों पर और फिर होँठों पर चुम्बन किया।

Utejna Sahas Aur Romanch Ke Vo Din – Ep 67

सुनीलजी ने सिर्फ एक धोती जो डॉ. खान की अलमारी में मिली थी वह पहन रक्खी थी। उसकी गाँठ भी बिस्तरे में पलटते हुए छूट गयी थी। वह बिस्तर में नंगे ही सोये हुए थे।

Utejna Sahas Aur Romanch Ke Vo Din – Ep 66

यह प्यार दीवाना पागल है। ना जाने क्या करवाता है। कभी प्यारी को खुद ही चोदे, तो कभी प्यारी को चुदवाता है। आगे आगे पढ़िए की कहानी में क्या क्या होता है।

Utejna Sahas Aur Romanch Ke Vo Din – Ep 65

कुछ ही देर में गद्दा और रजाई चटाई बगैरह लेकर डॉ. खान हाजिर हुए। डॉ. खान ने जस्सूजी से सुनीलजी की कहानी सुनी। कैसे आतंकवादियों से उनका पाला पड़ा था, बगैरा।

Utejna Sahas Aur Romanch Ke Vo Din – Ep 64

सुनीलजी ने आयेशा की गंवार भाषा में भी एक सच्चा प्यार देखा तो वह गदगद हो उठे। उन्होंने आयेशा को अपनी बाँहों में लिया और दोनों एक प्यार भरे गहरे चुम्बन में जुट गए।

Scroll To Top