पड़ोसन बनी दुल्हन-14

सेठी साहब का जबरदस्त लण्ड मेरी चुत में ऐसी हलचल मचा रहा था जिसे में शब्दों में बयान नहीं कर सकती, मैंने अपने आप को उनकी दूसरी बीवी मान लिया था।

स्नेहा की अजीबो गरीब हरकतें-1

मैंने ऑफिस में एक नयी कामवाली रखी थी, जो धीरे-धीरे मेरे करीब आ गई और फिर बात जिस्म की आग ठण्डी करने तक तक पहुंच गई।

Makan malik ki beti Pooja ki chudai

पढ़िए कैसे मने अपने मकान मालिक की बेटी, जो मुझे पसंद करती थी, की नई-नई जवानी का मजा लिया और उसके साथ अपना बिस्तर गरम किया.