मेरी भाभी के भाई ने मेरी गांड मारी-3

नितिन मेरे लिए बाजार से दुल्हन बनने का सारा सामान ले आया था। फिर कैसे मैंने तैयार होके उसको लंड चुसाई का जबरदस्त अनुभव दिया, वो पढ़िए।

मेरी भाभी के भाई ने मेरी गांड मारी-2

मैं एक बार नितिन से उसकी बीवी बन कर गांड मरवा चुका था। फिर कैसे मैं उसके साथ असली सुहागरात मनाने के लिए तैयार हुआ, इस कहानी में पढ़िए।

मेरी भाभी के भाई ने मेरी गांड मारी

मैं अपनी भाभी के भाई के घर चंडीगढ़ घूमने गया था। जानिए कैसे उसने मुझे उसकी बीवी के कपड़े पहने पकड़ा, और मेरी गांड की सील तोड़ दी।

मैं और मेरा गे परिवार-3

मैं किरण को अपनी पत्नी बना चुका था। पढ़िए कैसे मैंने उसके साथ सुहागरात मनाने की योजना बनाई, और फिर हमने दादा और चाचा की चुदाई देखी।

चाचा के साथ अनोखी रात-6

मेरे चाचा के चौकीदार ने मुझ पर नजर रखी हुई थी। फिर कैसे उसने मुझे ब्लैकमेल करके मेरी गांड की चुदाई की, पढ़िए इस गे सेक्स कहानी में।

सबकी चुदाई

मम्मी पापा घर पर नहीं थे, तो मैंने अपने गांडू दोस्त को बुला लिया। फिर कैसे मैंने उसकी गांड को चोद कर मजा लिया, पढ़िए इस कहानी में।

चाचा के साथ अनोखी रात-5

मेरे चाचा मेरी गांड फाड़ चुके थे। कैसे फिर उन्होंने मुझे सच के दर्शन करवाए, और उसके बाद हमनें पति-पत्नी बनके चुदाई की, पढ़िए इस हॉट कहानी में।

मैं और मेरा गे परिवार-2

मैंने अपने भाई को मम्मी के कपड़ों में सजे देखा, और मुझे पता चला कि वो मुझे पसंद करता था। पढ़िए कैसे मैंने उसको मेरी बीवी बनने को राजी किया।

मैं और मेरा गे परिवार

मैं रात में पानी पीने उठा, और मुझे दादू के कमरे से कुछ आवाज आई। जानिए कैसे अपने दादू को मैंने अपने चाचू को एक रांड की तरह चोदते हुए देखा।

चाचा के साथ अनोखी रात-3

मैं अपने चाचा के बहुत करीब आ गया था। इस कहानी में जानिए, कि कैसे चाचा ने मेरे लंड का पानी निकाला, और मुझे अपने लंड के पानी का स्वाद चखाया।

चाचा के साथ अनोखी रात-2

मैं अपने जवान चाचा के साथ बिस्तर पर था। पढ़िए कैसे उन्होंने मेरे जिस्म की मालिश की, और मुझे अपने मर्दाना एहसास से बहुत ज्यादा गरम कर दिया।

चाचा के साथ अनोखी रात

मैं परिवार के साथ शादी पर था। पढ़िए कैसे मेरे चाचा की गंदी नजर मेरे पर पड़ गई। फिर वो मेरे पीछे पड़ गए, और मेरे बिस्तर तक पहुंच गए।

मेरा पहला अनुभव अजनबी दोस्त के साथ

ये कहानी मेरे एक अजनबी दोस्त और मेरे बीच हुए प्रेम प्रसंग की है। कैसे मैंने अपना बदन एक दोस्त के हवाले किया आप यहां जान पाएंगे।