Mera behanchod devar-3

This story is part of a series:

हेल्लो दोस्तों, अब आगे की कहानी पढ़िए…

टोनी – दीदी बहुत दिन हूए तेरी चूदाई किए, आज तो मजा आ गया और तुझे चोदते हूए मुझे तेरी पहली चूदाई की याद आ गई। उस दिन भी तूझे चोद कर ऐसा ही मजा आया था, और आज एक बच्चा तेरी चूत से निकलने के बाद भी तेरी चूत वैसी ही टाइट है जैसे पहली बार थी और जब मैंने अपना लंड से तेरी चूत की सील तोडी थी।

दीदी टोनी को चूम कर बोली – उउउऊऊऊ मेरे बलमा मुझे भी आज चूदते हुए एक बार तो लग गया की शायद आज मेरी चूत से खून निकलेगा।

फिर वो दोनों एक दूसरे से लिपट कर हंसने लग गये, पर टोनी का लंड अभी भी जोश में था। तो मैंने कहा – टोनी मेरे देवर जी क्या ऐसे ही अपनी बहन को प्यार करते रहोगे, या अपनी भाभी और बडी बहन की चूदाई भी करोगे?

टोनी बोला – भाभी मेरे लंड पर सबसे पहला और आखरी हक सिर्फ और सिर्फ मेरी जान बिंदू का है। और जब तक मेरी प्यारी बहना मेरी जान नहीं बोलेगी, तो तब तक मैं तेरी और रेखा दीदी की चूदाई करना तो क्या मैं तुम्हारे जिस्म को छूउंगा भी नहीं।

मैं हसरत भरी निगाहों से बिंदू दीदी की तरफ देखने लग गयी और रेखा दीदी ने बिंदू दीदी से कहा – बिंदू ऐसा न कर प्लीज बोल टोनी को बेचारी भाभी बहुत दिन से तरप रही है।

बिंदू बोली – दीदी क्या सिर्फ भाभी ही तडप रही है, या तूझे भी चूदने की जल्दी है?

दीदी टोनी के लंड को ललचाई नजरों से देख कर बोली – बिंदू मैंने भी जब से टोनी का लंड देखा तो मेरी सूखी चूत में तभी से बाढ आ गयी थी। अब शर्म कैसी अब तो मै भी तेरी तरह अपने भाई के लंड से चूदना चाहती हूँ।

बिंदू दीदी मेरी और रेखा दीदी की तरफ देख कर मुस्कुराते हुए बोली – दीदी उसके लिए मेरी एक शर्त है?

हम दोनों बिंदू की तरफ आंखें फाड कर देखने लगीं और रेखा दीदी ने कहा – बिंदू हमें तेरी सभी शर्तें मंजूर हैं।

बिंदू ने कहा – दीदी पहले मेरी शर्त सून लो।

रेखा दीदी ने कहा – बोल तेरी क्या शर्त है?

बिंदू दीदी टोनी का लंड पकड कर बोली – दीदी अगर तुम दोनों को मेरे बलमा के लंड से मजा लेना है, तो तुझे अपनी बेटी मीनू की चूत का उदघाटन टोनी के लंड से करवाना होगा।

रेखा दीदी बिंदू की बात सुनकर बिंदू को फटकारते हुए बोली – बिंदू तुझे पता है तु क्या बोल रही है, मीनू मेरी बेटी और तुम दोनों की भानजी है।

मैंने कहा – दीदी आप भी तो देवर जी की बहन हो, और जब आप अपने भाई से चूदने को तडप रही हो तो? दीदी माफ करना मीनू भी अब जवान हो गई है और अब उसका भी चूदने का समय है। मीनू की चूत को भी अब एक दमदार लंड चाहिए और वो लंड उसके किसी यार का हो या उसके मामा का इसमें क्या फर्क है।

बिंदू के बार बार कहने से रेखा दीदी ने कहा – चलो ठीक है पर जब टोनी मीनू की चूत का उदघाटन करेगा तो, मैं तुम्हारे साथ नहीं रहूँगी।

बिंदू दीदी बोली – दीदी ये हुई न रंडी जैसी बात।

फिर वो टोनी से बोली – उउउऊऊ मेरे संईयां अब आपके सामने एक सील बंद चूत और मेरी प्यारी बहना की चूत है, और अब तुम पहले भाभी की चूत और फिर अपनी बहन की चूत का भोसडा बना कर अपनी महीनों से अधूरी इच्छा मीनू को चोदने की पूरी करना।

दीदी ने मुझे कहा – भाभी अब तू भी अपनी हफ्तों से प्यासी चूत की प्यास बूझा ले।

फिर मैंने लपक कर टोनी का लंड चूम लिया, और टोनी मेरे दोनों बूब्स मसलने लग गया। मैं मस्त होकर टोनी का लंड और ट्टटे चूमने चाटने लग गयी, और टोनी मेरे बूब्स मसलने और मेरे जिस्म पर हाथ फेरने लग गया।

मैं टोनी का लंड अपने मुंह गाल गले और अपने चूचों पेट पर फेरते हुए, अपनी चूत से लगाने लग गयी। टोनी के लंड की गर्मी से मेरी चूत सिहर गई, और मेरे मुंह से मादक सिसकियाँ निकलने लग गयी।

टोनी मेरे होंठ चूसता हुआ बोला – उउउऊऊऊ भाभी क्या मस्त माल है तू।

फिर वो मेरे जिस्म को यहां वहां से चूमने चाटने लग गया, और मेरे होंठ गाल कान गले से होते हुए बूब्स पेट नाभी चूमता हूआ मेरी जांघों को चूत के अगल बगल से चूम कर अपने गर्म गर्म होंठो को मेरी चूत से उसने लग गया दिया।

मेरी चूत पर उसने एक लम्बा चूमा लिया और अपनी जीभ से मेरी चूत में डाल कर मेरी चूत को वो चाटने लग गया। मैं मस्ती में अपनी चूत टोनी के मुंह में देते हुए बोली।

मैं – अअअआआ मेरे राजा उउउऊऊऊ ओओओहह देवर जी बहुत मजा आआ रहहहा हहहहै।

मेरी चूत से काम रस छलक गया और टोनी मेरा सारा कामर स चाट गया, वो अपने होंठ मेरे होंठों से लगा कर मेरे होंठो को चूसने लग गया। टोनी के होठों से मेरे कामरस की मादक महक से मैं मदहोश हो गई, और मैं अपनी जीभ टोनी के मुंह में देने लग गयी।

टोनी मेरी जीभ अपने होठों में लेकर चूसने लग गया, कुछ देर होंठ चूस कर टोनी ने मुझे बिस्तर पर लेटा दिया और उसने मेरे चूतडों के निचे एक मोटा तकिया लगा दिया। अब मेरी चूत पूरी तरह से उभर गई, और टोनी ने पहले मेरी चूत को चूमा और फिर अपने लंड का सूपाडा मेरी चूत के सूराख पर रख कर मेरो चूत पर रगडने लग गया।

मैं अपने चूतड उठा कर टोनी का लंड अपनी चूत में लेने की कोशिश करने लग गयी, पर टोनी ने मेरी चूत से अपना लंड हटा लिया। अब ये मुझसे सहन नहीं हुआ, तो मैंने टोनी को अपने उपर भींच कर बोली।

मैं – मेरे राजा अब मत तडपा अब जल्दी से अपना मुसल लंड मेरी दहकती चूत में डाल कर, मेरी चूत की आग को शांत कर दे।

तभी टोनी ने एक हल्का सा धक्का मेरी चूत में लगया, और टोनी के लंड का सूपाडा मेरी चूत में फंस गया। मैं आआआहहह कर उठी, टोनी ने मेरे दोनों बूब्स पकड कर फिर एक धक्का लगया।

इस बार टोनी का आधा लंड मेरी चूत में घूस गया, और मैं दर्द से चिल्लाने लग गयी। मेरी चूत से खून की पिचकारी टोनी के पेट पर निकल कर पडी। बिंदू मेरी चूत से खून निकलता देख कर बोली।

बिंदु – भाभी अब तू कूवांरी लडकी से औरत बन गई है, और तेरी चूत की सील मेरे संईयां के लंड ने तोड दी है।

टोनी मेरे बूब्स मसलते हूए अपना लंड धीरे धीरे मेरी चूत में घूसाने लग गया, और अपना सारा लंड उसने मेरी चूत में पेल दिया। कुछ देर बाद मुझे दर्द के साथ मजा आने लग गया, और मैं मस्ती में अपनी गांड उठा कर टोनी का लंड अपनी चूत में लेते हुए बोली।

मैं – अअअआआआ उउउऊऊऊ ओओओहह सीसीससस मेरे राजा आआआहहह फक मी हार्ड ऊऊऊऊइइइ चोद मुझे अअअआआ।

ये बोल कर मैं चूदने लग गयी और टोनी ने अपने धक्कों की स्पीड बढा दी, और मेरे दोनों बूब्स को वो बेरहमी से मसलने लग गया। मैं भी पूरे जोश में टोनी का साथ देने लग गयी, और अअअआआ उउउऊऊऊ ओओओहह करके टोनी का जोश बढाते हूए उससे चूदने लग गयी।

कुछ देर बाद ही मेरी चूत से काम रस छलक गया, और मैं टोनी को लंड निकालने को बोलने लग गयी। पर टोनी मेरी चूत में धक्के लगता हुआ बोला – साली रंडी बस अभी तो बहुत उछल रही थी चूदने को, और अब मैदान छोड़ कर भागने लग गयी।

मैंने मीन्नते करते हुए कहा – देवर जी प्लीज मुझे छोड़ दो, अब मुझसे तेरे धक्के सहन नहीं हो रहे। मेरी चूत में बहुत दर्द हो रहा है प्लीज मुझे छोड़ दो।

बिंदू ने मेरी हालत देख कर टोनी को लंड निकालने को कहा, और टोनी ने झट से अपना लंड मेरी चूत से निकाल लिया। टोनी के लंड से मेरी चूत का खून टपक रहा था, और बिस्तर भी खून से लथपथ था।

मेरी चूत से भी खून निकल रहा था और तभी टोनी ने बिंदू दीदी को कहा – दीदी ये साली तो भाग गई अब मेरे लंड का क्या होगा?
बिंदू दीदी ने कहा – मेरे संईयां अभी रेखा दीदी की चूत भी तेरे लंड का स्वागत करने को बेसब्री से इंतजार कर रही है। अब अपने लंड से अपनी दीदी की 12 साल से प्यासी चूत की प्यास बूझा दे।

टोनी ने रेखा दीदी को चित लिटाया और अपना लंड दीदी की चूत में पेलने लग गया, और दीदी भी टोनी का लंड अपनी चूत में लेते हुए दर्द से कराहने लग गयी। टोनी दीदी के बूब्स मसल कर बोला – दीदी तेरी चूत से तो दो बच्चे निकल चूके हैं, और तू अब भी दर्द होने का नाटक कर रही है?

फिर उसने एक जोरदार धक्के में अपना सारा लंड रेखा दीदी की चूत में पेल कर जोर जोर से धक्के लगाने लग गया। रेखा दीदी दर्द और मजे से मस्ती में बोली – ससससीईईईई उउउउईईईई ममममां मर गई आह्ह।

ये कहते हुए वो चूदने लग गयी और टोनी रेखा दीदी की जोरदार चूदाई करने लग गया। रेखा दीदी भी टोनी के लंड की चोट नहीं सह सकी, और वो भी टोनी को लंड निकालने को कहने लग गयी।

टोनी ने अपना लंड रेखा दीदी की चूत से भी बिना झडे ही निकाल लिया, टोनी का लंड चूत से निकलते ही रेखा दीदी बोली – बिंदू तू कैसे टोनी का लंड अपनी चूत में झाड लेती है, इसने तो मेरी चूत का एक बार में ही बिना झडे बैंड बजा दिया है।

बिंदू दीदी बोली – दीदी इसीलिए तो टोनी मेरा और मैं टोनी की दिवानी हूँ।

फिर वो टोनी का लंड चूसने लग गयी, और टोनी ने बिंदू दीदी को चोद कर अपने वीर्य से बिंदू दीदी की चूत को भर दिया और वो बोला – भाभी दीदी देखो मैंने अपनी बहन और बीवी को चोद कर अपना वीर्य दीदी की चूत में भर दिया है, अब तुम दोनों दीदी की चूत से मेरा वीर्य चाटो।

मैंने और रेखा दीदी ने बिंदू दीदी की चूत से टोनी का वीर्य चटकारे लेकर चाट गई, और उसके बाद टोनी ने मेरी एक बार और चूदाई की और अपना वीर्य मेरी चूत में छोडा। टोनी का वीर्य अपनी चूत में लेकर मुझे बहुत मजा आया।

उसके बाद टोनी ने रेखा दीदी की बेटी मीनू की चूत का उदघाटन किया, और मेरी छोटी बहन सोनी की चूत फाडी। पर वो सब मैं आपको अपनी स्टोरी के अगले भाग में बताऊंगी तब तक आप भी लाकडाउन में अपने घर में चूदाई का मजा लें, और मेरी स्टोरी के अगले भाग का इंतजार करें।

अगर मुझसे कोई भुल हो गई तो क्षमा करें और मेरी स्टोरी को लाइक और कमेन्ट करें।

[email protected]

What did you think of this story??

Comments

Scroll To Top