50 rupaye me kharida maa ka mms-2

This story is part of a series:

दोस्तों अब आगे की कहानी पढ़िए..!

वो पीछे से माँ घूर रहा था, पर माँ का पूरा ध्यान मोबाइल में ही था। फिर एक कुत्ते की आवाज़ से एकदम से माँ का ध्यान टूटा, वहां उनके सामने एक कुत्ता एक कूत्ती को पीछे से चोद रहा था।

माँ थोड़े देर तक उनको ही देखती रही, ये देख कर उस पास खड़े वाले आदमी ने सही मौका देख कर वो उनके बगल में बैठ गया। माँ का ध्यान अभी भी सामने चल रही चुदाई पर ही था।

उस आदमी ने माँ की तरफ देखा, फिर धीरे से उसने अपना एक हाथ माँ के कंधे पे रख दिया। मुझे लगा कि माँ अभी इसका हाथ झटक देगी पर उनका ध्यान अभी भी सामने ही था।

इस मौके का फायदा उठा कर, उस आदमी ने माँ के कंधे को धीरे से मसलना शुरू कर दिया। फिर उसने इधर उधर देखा, कि उसे कहीं कोई देख तो नहीं रहा है।

फिर उसने माँ के साड़ी के पल्लू को हल्का सा सरका के उनका कंधा मसलना शुरू कर दिया। पर माँ का ध्यान अभी भी उस आदमी पर नहीं था, या वो मज़े लेने लगी थी मुझे वहां दूर से कुछ समझ नहीं आ रहा था।

इसके बाद उस आदमी ने धीरे से अपने हाथ को थोड़ा नीचे किया, और इधर उधर देखते हुए माँ के बूब्स पे हाथ रख कर उसे धीरे से दबाने और सहलाने लग गया।

ये देख कर मुझे गुस्सा आया, पर फिर मुझे माँ की कसम याद आयी। जो मै तो नहीं मानता था, पर माँ जरूर मानती थी। तभी माँ का ध्यान सामने से टूटा और वो अपने साइड में उस आदमी को देख कर चौंक गई।

पर तब तक उस आदमी की हिम्मत बहुत बढ गई थी, वो अपने हाथ में माँ के बूब्स पकड़कर अच्छे से मसलने लगा था, माँ ने उससे कुछ बोला पर मै वो सुन नहीं पाया।

क्योकि तभी एक ट्रेन बड़ी रफ्तार से हमारे बीच से गुजरी। इसके बाद उस आदमी ने माँ के कान में कुछ कहा, तो माँ माना करने लग गयी। पर फिर उसने थोड़ा ताकत का इस्तमाल किया, और वो मेरी माँ को खींच कर ले जाने लग गया।

माँ भी उसके साथ धीरे धीरे जा रही थी। उस प्लेटफार्म के दूसरे तरफ खाली पटरी पे बस एक डिब्बा था। वो माँ को उसी तरफ ले गया, फिर उसने इधर उधर देखा और डिब्बे का गेट खोला और माँ का हाथ पकड़ कर उन्हें अंदर खींच लिया।

माँ भी उसके साथ अंदर चली गईं, उसने धीरे से दरवाजा वापस धकाया और अंदर चले गए।

मै इस समय ब्रिज के दूसरे तरफ ही खड़ा, वहां से सब कुछ देख रहा था। फिर वहां से सीधा उस डब्बे की तरफ मैं भागा, मै इतनी जल्दी में था कि मैंने ब्रिज का उपयोग भी नहीं किया।

वहां जा कर मैं देखने लगा, तो उन्होंने अंदर से सारी खिड़कियां बंद कर दी थी। फिर मै घूम कर दूसरी तरफ गया, तो देखा उस तरफ का एक दरवाजा खुला था।

तो मै बिना आवाज़ किए अंदर घुस गया, और जिधर वो थे उस तरफ जाने लगा। चूंकि वो लोग पहले गेट से घुस थे और मै तीसरे वो भी दूसरे तरफ से।

तो जब मैने उनको देखा तो मै चौक गया, उस आदमी ने माँ के सारे कपड़े उतार दिए थे। अब माँ बस पैंटी में थी, और वो माँ को किस करके उनके बूब्स को मसल रहा था।

माँ धीरे धीरे आवाज़ कर रही थी, फिर उसने माँ को वहीँ सीट पर लेटने को कहा तो माँ भी वहाँ लेट गई। फिर वो आदमी ने माँ के ऊपर चढ़ कर उन्हें किस करने लग गया।

फिर उसने धीरे से अपना मोबाइल निकाला और माँ से बोला – तुम्हारी एक दो फोटो ले लेता हूं, बाद में मुठ मारने के काम आयेगी।

माँ ने उसकी तरफ गुस्से में देखा तो वो बोला – चिंता मत करो ये बस मेरे लिए है, और इसमें तुम्हारी शकल भी नहीं दिखेगी।

तो माँ ने रिलैक्स वाली नज़रों से उसे देखा, फिर उस आदमी ने माँ की फोटो लेनी शुरु कर दी। करीब ८-१० फोटो लेने के बाद उसने धीरे से कैमरे को वीडियो मोड में बदल दिया, और वो माँ वीडियो बनाने लग गया।

माँ को शायद इस बात का पता नहीं था, कि उनकी चुदाई की वीडियो बन रही है। फिर उस आदमी ने झट से माँ कि पैंटी भी निकाल दी, और उनकी चूत को वो सहलाने लग गया।

शायद उसने इतनी गोरी चूत पहले कभी नहीं देखी थी, इसलिए उसने जल्दी से अपनी जीन्स नीचे करी और फिर चड्डी भी नीचे कर दी। मैने देखा की उसका लन्ड कमसे कम ८ इंच का था।

उसने झट से अपना लन्ड माँ की चूत पे टिकाया और कस के एक उसने जोरदार धक्का मारा। उसका लंड आधा अंदर चला गया था, पर माँ कि चीख निकल गई।

फिर उसने इधर उधर देखे बिना ही थोड़ा सा लंड बाहर खींचा, और कस कर एक और धक्का मार दिया। अब उसका पूरा लन्ड माँ की चूत में समा गया था।

माँ इस बार और जोर से चीखी, तो उस आदमी ने एक हाथ माँ के मुंह पर रख दिया और वो धक्के मारने लग गया। माँ के चेहरे पर दर्द साफ दिख रहा था, पर उस आदमी को इससे कोई लेना देना नहीं था।

वो बस धक्के मर रहा था, माँ की आह उह की आवाज डब्बे में गूंज रही थी। पर उस आदमी को बड़ा मज़ा आ रहा था, उसने स्पीड बड़ा दी और माँ अब एन्जॉय करने लग गयी थी।

वो भी मस्ती से आह उह कर के सिसकारी भर रही थी। इतने में मैंने देखा कि माँ ने कस के उस आदमी को पकड़ लिया है, और वो जोर जोर से आवाज करती हुई झड़ गई।

पर उस आदमी ने रफ्तार काम नहीं करी थी, वो तो बस थप थप की आवाज और माँ की चूड़ियों की खन खन की आवाज के साथ चुदाई की आवाज आ रही थी।

फिर उसने धीरे से माँ कि टांगो को मोड कर उनके दोनों एड़ी उनके कान पास पहुंचा दिया, और दोनों हाथ से माँ के दोनों हाथो के नीचे से उनके गर्दन के पीछे पकड़ कर वो उन्हें जोर जोर से पेलने लग गया।

माँ की चूत ने एक बार और पानी छोड़ दिया था, पर वो रुकने का नाम ही नहीं ले रहा था। इसी तरह उसने फिर बहुत बुरी तरह माँ को १० मिनट और चोदा।

फिर माँ की चूत में ही वो माँ के साथ झड़ गया। उसने लगभग २५ मिनट तक माँ को जम कर चोदा था। फिर वो माँ के ऊपर से उठा और अपने फोन से माँ की चूत कि फांके खोल कर माँ का और उसका वीर्य बाहर आते हुए वो वीडियो को पूरा कर रहा था।

शायद माँ बहुत थक गई थी, तो वैसे ही पड़े पड़े आंख बंद करके लेटी रही। उस आदमी ने माँ से कहा – कोई बात नहीं मेरी जान ऐसे यही आराम कर लो, यहां कोई नहीं आता है। और मै अब तुम्हारे लिए पानी लेकर आता हूं।

इसके बाद उसने अपने कपड़े पहने और गेट खोल कर वो बाहर निकल गया। मै भी उसके पीछे पीछे हो लिया, फिर मैंने देखा उसने उधर एक टी स्टॉल से पानी की १० वाली बोतल ली और वापस जाने लग गया।

मैने उसकी तरफ देखा और स्माइल दी, तो वो मुझे अचरज से देखने लग गया। फिर मैंने धीरे से उसको बताया, कि अभी वो उधर जो चुदाई कर रहा था मैंने वो देख ली है।

फिर वो और मै वही बेंच पर बैठ कर बात करने लगे, तब उसने बताया कि उसका नाम लाखन है और वो ऑटो का ड्राइवर है। उसने इस औरत को यहां स्टेशन पर इतनी जल्दी आते देखा, क्योंकि अभी यहां कोई भी ट्रेन बहुत दर तक नहीं आने वाली है।

तो मैंने सोचा कोशिश कर के देख लेता हूं, अगर इसकी चूत मारने मिल गई तो मज़ा आ जाएगा। और देखो मुझे तो मज़ा आ गया, साली सालो से नहीं चुदी थी।

उसकी चूत से खून आ गया था, इसलिए बाहर नहीं आ रही है क्योकि उसकी अभी हालत चलने वाली ही नहीं थी। फिर उससे मैंने वो वीडियो मांगी।

तो उसने मुझसे ५० रुपए लिए और वो वीडियो दे दी। तो मै बोला – अब तुम इस वीडियो से उस औरत को ब्लैकमेल करोगे क्या?

वो – अगर जरूरत पड़ी तो करूंगा नहीं तो बेच दूंगा, मेरा एक इंटरनेट कैफे वाला दोस्त है जो ऐसे वीडियो को इंटरनेट पर डालता है और पैसे कमाता है।

और वो मुझे बता रहा था, कि मेरे जैसे काले आदमी जब ऐसी गोरी चिठी माल चोदते है, और जैसे मैने चोदा है ऐसे चोदते है तो वो वीडियो बहुत ही ज्यादा डिमांड वाली होती है।

मैं – वैसे अब तक कितनो को तूने ऐसे चोदा है?

वो – मैंने बहुतों को चोदा है, और मेरे पास बहुत सारी वीडियो भी है। पर इसको चोदने में मुझे आज बहुत मजा आया है।

मैं – अब क्या करोगे?

तो उसने जो बताया, उसे सुन कर मेरे होश उड़ गए।

अगर आप भी जानना चाहते हो, कि आगे क्या हुआ तो इंतजार कीजिए कहानी के अगले पार्ट का। आगे के पार्ट में आपको इससे भी काफी ज्यादा मजा आने वाला है।

What did you think of this story??

Comments

Scroll To Top